अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में कट्टरपंथियों ने तीन तलाक मुद्दे पर बहस का किया विरोध

कट्टरपंथियों की असहिष्णुता पर, कट्टरपंथियों द्वारा फैलाये जा रहे अशांति पर बात करने को मीडिया कभी तैयार नहीं रहती तीन तलाक और हलाला का मुद्दा देश भर में चल रहा है, सुप्रीम कोर्ट में भी ये मुद्दा लंबित है

अब भारत एक लोकतंत्र है तीन तलाक और हलाला पर बहस तो होगी, ये कोई इस्लामिक देश तो है नहीं जहाँ बहस ही नहीं हो सकती पर कट्टरपंथी तत्व तीन तलाक और हलाला के मुद्दे से अब जैसे अंदर तक कांपे हुए है

क्यूंकि इनकी सारी पोल पट्टी खुल रही है, ये लोग मजहब के नाम पर कैसे महिलाओं का सदियों से शोषण कर रहे है सबकुछ अब सामने आ रहा है

नया मामला अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से सामने आ रहा है जहाँ पर तीन तलाक और हलाला के मुद्दे पर बहस तक का विरोध कर रहे है कट्टरपंथी  और बहस कराने पर अशांति की धमकियां भी दे रहे है

ये कट्टरपंथी अपनी महिलाओं को तीन तलाक और हलाला के नर्क में ही रखना चाहते है, पर कोई महिलाओं की बात करना चाहे बहस करना चाहे तो ये कट्टरपंथी अंदर तक काँप कर

अशांति और असहिष्णुता फैला रहे है, पर इन कट्टरपंथियों की असहिष्णुता पर बात करने के लिए मीडिया तैयार नहीं है

Comments

Write a Comment

Related Articles